विदेशी मुद्रा विश्वकोश

Bitcoin क्या होता है?

Bitcoin क्या होता है?
डिजिटल करेंसी का इस्तेमाल कॉन्टैक्टलेस पेमेंट करने में किया जाता है। उदाहरण के तौर पर जैसे कि आप जब अपने बैंक अकाउंट से किसी दोस्त के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करते हैं या फिर अपने फोन में किसी पेमेंट ऐप का इस्तेमाल कर रहे होते हैं। आप इसी पैसे को एटीएम से निकाल लेते हैं, तो वह कैश में तब्दील हो जाता है।

You are currently viewing Bitcoin क्या है ? बिटकॉइन के बारे में पूरी जानकारी

Cryptocurrency: जानें, भारत में लॉन्च होने वाली Digital Currency और क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin में क्या Bitcoin क्या होता है? फर्क है?

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) एक सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) की चरणबद्ध शुरुआत के लिए कमर कस चुका है, जिसका लक्ष्य इस साल के अंत तक लॉन्च करना है। आपको बता दें कि डिजिटल करेंसी (Digital Currency) Bitcoin क्या होता है? का इस्तेमाल इस समय बहुत बड़े स्तर पर फैल गया है। बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसी के हालिया उदय के Bitcoin क्या होता है? कारण दुनिया भर के तमाम वित्तीय संस्थान डिजिटल करेंसी पर विचार करने को मजबूर हो गए।

यही वजह है कि केंद्रीय बैंक ने भी अपनी डिजिटल करेंसी लाने का प्लान बनाना शुरू कर दिया है। CBDC (central bank digital currency) का शुभारंभ भारत के लिए ऐतिहासिक होगा। आरबीआई जैसे केंद्रीय बैंक का ध्यान अनिवार्य रूप से पारंपरिक बैंक के रूप में कार्य करने के बजाय देश में बैंकिंग प्रणालियों का समर्थन करना है।

Bitcoin क्या है ? ( What is Bitcoin in Hindi )

दोस्तों बिटकॉइन दुनिया की पहली cryptocurrency जिसके इस्तेमाल करने के लिए किसी भी मध्यस्थ की आवश्यकता नहीं होती है। यह एक ऐसी वर्चुअल करेंसी हैं जिसे हम देख एवं छू नहीं सकते पर लेन-देन करने में इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसे आप ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं, और इसका उपयोग कर सकते हैं। बिटकॉइन मुद्रा Decentralized System पर काम करती है, इस पर किसी भी देश की सरकार एवं व्यक्ति का स्वामित्व अथवा मालिकाना हक़ नहीं है।

यह ओपन सोर्स है एवं कोई भी इसे यूज़ कर सकता है। बिटकॉइन पीयर टू पीयर नेटवर्क पर काम करता है एवं बिटकॉइन के लेन-देन के लिए बैंक जैसे किसी भी मध्यस्थ की जरुरत नहीं होती है। बीते कुछ वर्षों में बिटकॉइन का इस्तेमाल बढ़ा है। आजकल ज्यादातर websites और online stores बिटकॉइन से पेमेंट एक्सेप्ट कर रहे हैं।

बिटकॉइन की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए कई देशों द्धारा इसे स्वीकार किया जा रहा है। वर्तमान में बिटकॉइन एक ऐसी मुद्रा बन गयी है जिससे आप पुरे विश्व में कहीं पर भी online transaction कर सकते हो।

बिटकॉइन किसने बनाया

बिटकॉइन का आविष्कार जापान के रहने वाले Satoshi Nakamoto ने 2009 में किया था। उनके इस आविष्कार का मकसद दुनिया को यह बताना था की बिना किसी मध्यस्थ के भी दो लोग आपस में पैसों का लेन-देन कर सकते हैं। आपको शायद जानकर हैरानी हो कि अभी तक लोग सिर्फ Satoshi Nakamoto का नाम ही जानते हैं उन्हें किसी ने भी देखा नहीं है।

दोस्तों बिटकॉइन की कीमत बढ़ती-घटती रहती है। पिछले कई सालों में बिटकॉइन की कीमत में बहुत अधिक बढ़ोतरी हुई है। जब बिटकॉइन पहली बार बाजार में आया था तब इसकी कीमत एक डॉलर के बराबर भी नहीं थी, लेकिन आज एक बिटकॉइन हज़ारों डॉलर्स में बिकता है। अभी जब में यह आर्टिकल लिख रहा हूँ, एक बिटकॉइन की कीमत 9283.70 डॉलर ( 7,07,903.01 भारतीय रूपए ) है।

बिटकॉइन की वर्तमान कीमत जानने के लिए गूगल पर सर्च करें “Btc to Inr”.

बिटकॉइन का इस्तेमाल कहाँ कर सकते हैं ?

बिटकॉइन का उपयोग ऐसी किसी भी वेबसाइट जो बिटकॉइन में पेमेंट लेती हो उन पर पेमेंट देने के लिए किया जा सकता है। आप ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए भी बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते हो।

दुनिया के किसी भी कोने में आप किसी को पैसा भेजने के लिए भी बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते हो। इसके अलावा कई लोग बिटकॉइन का इस्तेमाल पैसे कमाने के लिए भी करते हैं। बिटकॉइन से पैसे कमाने के लिए लोग उसे खरीद लेते हैं और कीमत ज्यादा होने पर उसे बेच देते हैं।

बिटकॉइन के फायदे क्या है ?

दोस्तों बिटकॉइन का इस्तेमाल करने के कई फायदे हैं, जो हम सभी को इसका यूज़ करने के लिए आकर्षित करते हैं। चलिए जानते हैं कि बिटकॉइन के क्या फायदे हैं:Bitcoin क्या होता है?

  • सबसे पहला फायदा यह है की बिटकॉइन से लेन-देन करने पर बहुत ही कम चार्ज देना होता है। डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड अथवा बैंक से ट्रांजेक्शन्स करने पर लगने वाली फीस की अपेक्षा बिटकॉइन के ट्रांजेक्शन पर बहुत कम फीस लगती है।
  • बिटकॉइन का इस्तेमाल लगभग हर देश के लोग कर रहे हैं, इसका मतलब आप पुरे विश्व में किसी को भी बिटकॉइन से पेमेंट कर सकते हो।
  • इससे लेन-देन करना बहुत ही सुरक्षित और आसान है।

Bitcoin Kya hai ? | Bitcoin के बारे में सारी जानकारी

बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है। यह एक ऐसी करेंसी है जिसे कोई नहीं देख सकता यह वर्चुअल रूप में पाई जाती है।इसे इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में सिक्योर करके रखते हैं। पिछले कुछ वर्षों में इसका चलन काफी बढ़ गया है। आप इसे किसी अन्य करेंसी की तरह खरीद सकते हैं जैसे Dollar, Rupee, Krona, Dinar आदि। आइए इस ब्लॉग में विस्तार से जानिए कि Bitcoin kya hai ?

Table of Contents

Bitcoin Kya hai? | बिटकॉइन क्या है ?

Bitcoin kya hai ? जानने से पहले जानिए कि बिटकॉइन एक अंग्रेजी शब्द ‘Crypto’ है, जिसका अर्थ होता है गुप्त। क्रिप्टोग्राफी के नियमों के आधार पर बिटकॉइन काम करती है। क्रिप्टोग्राफी का अर्थ होता है कोडिंग भाषा को सुलझाने की कला। बिटकॉइन को बिटकॉइन वॉलेट में सेव करते हैं। इसे हम एक सुरक्षित ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने के लिए उपयोग करतें हैं। ये 0 और 1 सीरीज में आती है।

इसे बड़ी-बड़ी कंपनियों ने एक्सचेंज के रूप में अपनाया है जैसे – Microsoft, Tesla आदि। इसको 2008 में सातोशी नाकामोतो ने बनाया था लेकिन 2009 Bitcoin क्या होता है? में इसे ओपन स्रोत सॉफ्टवेयर के रूप में लॉन्च किया गया था। इसकी सबसे छोटी यूनिट सातोशी हैं, 1 Bitcoin= 10 करोड़ सातोशी हैं। सातोशी नाकामोतो को बिटकॉइन का फाउंडर कहा जाता है।

बिटकॉइन कैसे बनाया जाता है| How to make Bitcoin.


बिटकॉइन प्रोड्यूस करना इतना आसान नहीं है इसमें काफी मेहनत लगती हैं। ये माइनिंग मेथड से आई एक इलेक्ट्रॉनिक मुद्रा है जिसके कारण इसकी कीमत बढ़ जाती हैं। माइनर गणितीय और क्रिप्टोग्राफिक समस्याएं को सुलझाते हैं। इस समस्या को सुलझाने पर माइनर को बिटकॉइन ब्लॉक के रूप में रिकॉर्ड करते हैं। माइनिंग प्रोसेस लंबा होता है।बिटकॉइन केवल सिमित संख्या में बनाए जाते हैं, इसलिए इसकी कारण से इसकी मांग बढ़ रही हैं।

Bitcoin का उपयोग अलग-अलग ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स में किया जाता है। ये P2P नेटवर्क पर काम करता हैं। आजकल ऑनलाइन डेवेलपर्स, NGOs इसका इस्तेमाल ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स के लिए करते हैं। ऑनलाइन भुगतान जैसे हम बैंक में ट्रांसक्शन्स करते हैं, हम पता लगा सकते है किसे भुगतान Bitcoin क्या होता है? की है। लेकिन बिटकॉइन का रिकॉर्ड पब्लिक लैजर में नहीं होता है। इसे ट्रैक नहीं किया जा सकता जब Bitcoin क्या होता है? किसी दो व्यक्तियों के बीच एक्सचेंज किया जा रहा हो। इसका रिकार्ड सिर्फ दो बार ही देखा जा सकता है एक बार जब किसी ने इसे खरीदा हो और दूसरी बार जब कोई इसे बेच रहा हो।

बिटकॉइन के क्या क्या लाभ है | Advantage of Bitcoin

बिटकॉइन को दुनिया भर में कहीं भी और किसी को भी भेज सकते हैं।
इसका अकाउंट ब्लॉक नहीं किया जाता, जैसे कभी-कभी बैंक अकाउंट ब्लॉक कर दिए जाते हैं।
अंतरराष्ट्रीय लेनदेन में इसका उपयोग कर सकते हैं और इसमें ट्रांजेक्शन फीस लगती हैं।
इसमें मध्यस्थ (मिडलमैन) की भूमिका नहीं रहती है जिससे कम खर्च में लेन देन किया जाता है।
इसे किसी देश में वैधानिक मान्यता नहीं है इसलिए इसका उपयोग बिना किसी अतिरिक्त कीमत से किया जा सकता है।

इसका सबसे बड़ा नुकसान यह है अगर आपका डेटा हैक हो जाए और रिकवर ना हो पाए या अगर आप पासवर्ड भूल जाते हैं तो आप अपने सारे Bitcoin गवा देते हैं।

इस पर किसी अथॉरिटी का नियंत्रण नहीं है जिस कारण से इस को अवैध चीजें खरीदने के उपयोग में लाया जा सकता है।

अब तो आप जान ही गए होंगे कि Bitcoin Kya hai बिटकॉइन के क्या लाभ हैं बिटकॉइन का उपयोग हम कहां कहां करते हैं इससे होने वाले हानियां अगर यह पोस्ट आपको पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं अगर आपके मन में कोई सवाल यह सुझाव है तो आप हमें नीचे दिए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं

बिटकॉइन का इस्तेमाल कहाँ कर सकते हैं ?

बिटकॉइन का उपयोग ऐसी किसी भी वेबसाइट जो बिटकॉइन में पेमेंट लेती हो उन पर पेमेंट देने के लिए किया जा सकता है। आप ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए भी बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते हो।

दुनिया के किसी भी कोने में आप किसी को पैसा भेजने के लिए भी बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते हो। इसके अलावा कई लोग बिटकॉइन का इस्तेमाल पैसे कमाने के लिए भी करते हैं। बिटकॉइन से पैसे कमाने के लिए लोग उसे खरीद लेते हैं और कीमत ज्यादा होने पर उसे बेच देते हैं।

बिटकॉइन के फायदे क्या है ?

दोस्तों बिटकॉइन का इस्तेमाल करने के कई फायदे हैं, जो हम सभी को इसका यूज़ करने के लिए आकर्षित करते हैं। चलिए जानते हैं कि बिटकॉइन के क्या फायदे हैं:

  • सबसे पहला फायदा यह है की बिटकॉइन से लेन-देन करने पर बहुत ही कम चार्ज देना होता है। डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड अथवा बैंक से ट्रांजेक्शन्स करने पर लगने वाली फीस की अपेक्षा बिटकॉइन के ट्रांजेक्शन पर बहुत कम फीस लगती है।
  • बिटकॉइन का इस्तेमाल लगभग हर देश के लोग कर रहे हैं, इसका मतलब आप पुरे विश्व में किसी को भी बिटकॉइन से पेमेंट कर सकते हो।
  • इससे लेन-देन करना बहुत ही सुरक्षित और आसान है।

बिटकॉइन के नुकसान क्या है ?

हरचीज़ के दो पहलु होते हैं उसी तरह बिटकॉइन के फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। चलिए अब जानते हैं कि बिटकॉइन के नुकसान क्या हैं:

  • बिटकॉइन पर किसी भी देश की सरकार का नियंत्रण नहीं होता है इसलिए इसकी कीमत बाज़ार में मांग के अनुसार कम और ज्यादा होती रहती है। ऐसे में अगर आप बिटकॉइन में निवेश करते हैं और अगर बिटकॉइन की कीमत कम हो जाए तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। (पिछले कुछ वर्षों में बिटकॉइन की कीमत बहुत तेजी से बड़ी है)
  • वैसे तो बिटकॉइन इस्तेमाल करना बहुत सुरक्षित है लेकिन इसमें आपको बहुत सावधानी रखनी पड़ती और अगर आप थोड़ी सी भी गलती करते हैं तो आपका बिटकॉइन अकाउंट हैक होने का खतरा रहता है।

बिटकॉइन वॉलेट क्या है ?

बिटकॉइन को ऑनलाइन स्टोर करने के लिए बिटकॉइन वॉलेट का उपयोग किया जाता है। इंटरनेट पर कई सारे एप्प्स और सॉफ्टवेयर हैं, जिनकी मदद से आप बिटकॉइन को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हो इन एप्प्स को ही बिटकॉइन वॉलेट कहा जाता है।

यह सभी बिटकॉइन वॉलेट क्लाउड बेस्ड टेक्नोलॉजी पर काम करते हैं। बिटकॉइन वॉलेट में आपको अपना एक बिटकॉइन एड्रेस मिलता है जिससे आप अपने बिटकॉइन वॉलेट में पेमेंट ले सकते हो। इसके अलावा बिटकॉइन वॉलेट की मदद से आप बिटकॉइन बेचकर पैसों अपने बैंक में भी भेज सकते हो।

Conclusion

दोस्तों अब आपको समझ में आ गया होगा की Bitcoin Kya Hai. बिटकॉइन वाकई में अब एक ग्लोबल करेंसी बन गया है क्यूंकि अब हर जगह इससे लेन-देन स्वीकार किया जा रहा है। आपकी बिटकॉइन के बारे में क्या राय है हमें जरूर बताएं।

इंडिया में बिटकॉइन प्राइस

बिटकॉइन की कोई कीमत निश्चित नही होती इसमें अस्थिरता रहती है क्युकी ये वित्तीय बाजारों पर निर्भर है जो स्वयं अस्थिर है । वर्तमान समय में देखा जाए तो कोरोना वायरस के ओमीक्रोन वेरिएंट के कारण इसमें गिरावट देखने को मिली है। इसकी अस्थिरता के बारे में अनुमान इस बात से भी लगाया जा सकता है की केवल एक ही दिन में बिटकॉइन की कीमत 11,434 डॉलर छूने के बाद 9,009 डॉलर तक गिर गई ।

बिटकॉइन को खरीदने से पहले लोगो को यह जानना चाहिए की इससे उन्हें कितना फायदा या नुकसान हो सकता है । तो बिटकॉइन में निवेश करने से पहले निवेशकों निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए जो इस प्रकार है ——

  • इसकी कीमतों में भारी उतार-चढ़ाव आता है।
  • कीमतों को लेकर सटीक आकलन नहीं
  • बिटकॉइन से कोई चीज नहीं खरीद सकते
  • गैर कानूनी कामों में इस्तेमाल होने की आशंका
रेटिंग: 4.98
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 711
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *