विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग रणनीति की मूल बातें

डिविडेंड कौन देता है?

डिविडेंड कौन देता है?

काम की खबर: डिविडेंड इनकम पर टैक्स का क्या है हिसाब-किताब, यहां समझिए

अगर निवेशक पैन कार्ड की सेल्‍फ-अटेस्‍टेड कॉपी के साथ फॉर्म 15 G या 15 H जमा करता है तो उसे टीडीएस नहीं देना होगा

By: एबीपी न्यूज़ | Updated at : 11 Aug 2020 11:00 AM (IST)

निवेशकों को म्यूचुअल फंडों और घरेलू कंपनियों से होने वाली डिविडेंड इनकम पर टैक्स देना पड़ता है. अलग-अलग स्लैब के हिसाब से इस पर टैक्स लगता है. टैक्स की वसूली टीडीएस के तौर पर होती है. लिहाजा यह जानना जरूर है कि किन स्थितियों में डिविडेंड टैक्स लगेगा और कब नहीं.

देश में रहने वाले किसी निवेशक को अगर म्‍यूचुअल फंड और शेयरों से डिविडेंड के तौर पर पांच हजार रुपये तक की कमाई होती है तो कोई टैक्स नहीं कटेगा. लेकिन पांच हजार रुपये से ज्यादा के डिविडेंड इनकम पर दस फीसदी टीडीएस कटेगा. अगर निवेशक पैन कार्ड की सेल्‍फ-अटेस्‍टेड कॉपी के साथ फॉर्म 15 G या 15 H जमा करता है तो उसे टीडीएस नहीं देना होगा. इन दोनों के जरिये निवेशक यह घोषणा करता है कि उसकी आय कर योग्य सीमा से कम है. लिहाजा उसे टैक्स डिविडेंड कौन देता है? दायरे से बाहर रखा जाए. हालांकि 15 G या 15 H की वैलिडिटी एक साल की होती है.

पैन कॉपी देने पर कम लगेगा टैक्स

अगर निवेशक पैन कार्ड की कॉपी देता है तो 7.5 फीसदी की घटी दर से टीडीएस का भुगतान करना होगा. अगर निवेशक पैन कार्ड की कॉपी नहीं देता है तो 20 फीसदी की बढ़ी हुई दर से टीडीएस कटता है. भारतीय शेयर बाजार या म्यूचुअल फंड में पैसा लगाने वाले अनिवासी भारतीयों (एनआरआई) को डिविडेंड पर 20 फीसदी टैक्स देना होगा. हालांकि, टैक्‍स का कैलकुलेशन उस देश के साथ भारत के समझौते (डीटीएए) पर निर्भर करेगा. यह इस बात से भी तय होगा कि निवेशक कौन से दस्‍तावेज जमा करता है.

News Reels

Published at : 11 Aug 2020 11:00 AM (IST) Tags: Dividend tax tds PAN income tax हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

जानिए क्या है डिविडेंड और कैसे कमा सकते है लाखों रुपए सिर्फ डिविडेंड से | Best Dividend Paying Stocks [2022]

dividend paying stocks

Highest Dividend Paying Stocks in 2022

क्या आपने कभी पैसिव इनकम के बारे में सुना है। मतलब बिना कुछ किए घर पर बैठे-बैठे ही आपकी इनकम होना (make money at your home) । उदाहरण से समझे तो जैसे अगर आपके पास आपके घर में कोई एक रूम खाली पड़ा है। उसे आप रेंट पर दे देते हैं तो वह आपकी Passive इनकम का जरिया बन जाता है।

जी हां वैसे तो Passive इनकम के बहुत से विकल्प हैं, लेकिन आज हम आपको पैसिव इनकम का जो विकल्प बताने जा रहे रहे हैं वह है डिविडेंड।

Best Dividend Paying Stocks in India[2022]

अगर आप शेयर बाजार में पैसा गवांना नहीं चाहते तो जानिए वारेन बुफेट के निवेश के मूल मंत्र

अगर आप अपने पैसे को शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो आप डिविडेंड के बारे में अवश्य ही जानते होंगे। डिविडेंड के जरिए आप अपने पैसे को काम पर लगा कर पैसे से पैसे बना सकते हैं । जी हां Robert Kiyosaki ने अपनी बुक रिच डैड पुअर डैड(Rich dad Poor dad) में लिखा है -गरीब लोग पैसे के लिए काम करते हैं जबकि अमीर लोग अपने पैसे को काम पर लगाते हैं, मतलब पैसे से पैसा बनाना।

शेयर बाजार से पैसे कमाने के मुख्यतः दो तरीके हैं-

आइए जानते हैं क्या होता है डिविडेंड? कंपनी डिविडेंड क्यों देती है?

कैसे डिविडेंड को हम अपनी पैसिव इनकम का स्रोत बना सकते हैं?

किसी भी कंपनी को 1 साल में जो भी मुनाफा होता है कंपनी उसे अपने शेयरधारकों में बांट देती है । यह कंपनी के ऊपर निर्भर करता है कि वह साल में कितनी बार अपने निवेशकों को डिविडेंड देती है। कंपनी साल में 1 या 2 बार या 3,4 बार भी डिविडेंड देती है।

डिवीडेंड के माध्यम से आप कितना पैसा कमा सकते हैं, इस बात का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं की राकेश झुनझुनवाला ने टाइटन के द्वारा एक साल में 34 करोड़ रुपए केवल डिविडेंड से कमाए।

कंपनी डिविडेंड क्यों देती है?

अब आप पूछेंगे कि कंपनी डिविडेंड देती क्यों है?

जब भी आप किसी कंपनी का शेयर खरीदते हैं तो आपका उस कंपनी में कुछ प्रतिशत हिस्सा हो जाता है। मतलब आपका कंपनी के छोटे से भाग में एक मालिकाना हक होता है। या ये कहें कि आप भी कंपनी के एक हिस्सेदार बन जाते हो । तो अब कंपनी को जो भी प्रॉफिट होगा उस पर उस प्रॉफिट पर एक तरह से आप का भी हक हुआ। अगर कंपनी चाहे तो अपने प्रॉफिट को कंपनी की ग्रोथ के लिए दोबारा से इन्वेस्ट कर सकती है और अगर चाहे तो अपने उस प्रॉफिट में से कुछ हिस्सा अपने शेयरधरकों में बांट देती है।

डिविडेंड पाने के लिए सबसे पहले आपके पास उस कंपनी के शेयर एक्स डिविडेंड डेट के पहले होने चाहिए डिविडेंड एक प्रकार से कंपनी द्वारा शेयरधारकों को पुरस्कृत करने का तरीका होता है।

कई बार कुछ कंपनियां नुकसान में होते हुए भी अपने निवेशकों को डिवीजन प्रदान करती है ताकि निवेशकों का कंपनी पर भरोसा बना रहे।

डिविडेंड का फायदा किन निवेशकों को अधिक होता है?

जिन निवेशकों के पास कंपनी के शेयरों की संख्या अधिक मात्रा में होती है जाहिर सी बात है वह शेयर धारक डिविडेंड के माध्यम से एक अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं जो कि आपके पैसिव इनकम का अच्छा जरिया बन जाता है। मान लीजिए आपके पास किसी कंपनी के 100 शेयर है और कंपनी का एक शेयर 10 रुपए का है तो आपको मिलने वाला डिविडेंड होगा 1000 रुपए।

और कंपनी साल में 2 बार डिविडेंड दे, तो सीधे सीधे 2000 रुपए। इतना तो आपको बैंक में ब्याज भी नहीं मिलता।

वहीं अगर 10 रुपए के आपके पास 500 शेयर है तो आपको मिलने वाला डिविडेंड होगा 5000 रुपए।

डिविडेंड देने की प्रक्रिया:

  • जब भी कोई कंपनी डिविडेंड देने के बारे में फैसला लेती है तो यह फैसला वह अब कंपनी की एनुअल जनरल मीटिंग (AGM)में करती है।
  • कंपनी अपने फैसले के तुरंत बाद ही डिवीजन नहीं देती।
  • कंपनी निवेशकों को कंपनी के शेयर खरीदने का पूरा मौका देती है।

डिविडेंड से जुड़ी कुछ टर्मिनोलॉजी:

  • Dividend declaration date : इस दिन कंपनी अपने बोर्ड मीटिंग में डिविडेंड देने के फैसले को मंजूरी देती है।
  • Ex date : इस डेट से पहले पहले जिन शेयरधारकों के पास कंपनी के शेयर होंगे ,उन्हीं शेयर धारकों को कंपनी डिविडेंड देती है।
  • Record date : इस दिन कंपनी अपना पूरा रिकॉर्ड देखकर उस में स्थित अपने शेयरधारकों को देखती है जिनके पास डिविडेंड कौन देता है? कंपनी के शेयर होते हैं और उन्हें डिविडेंड देने का फैसला लेती है।
  • Divided Payout date : इस दिन कंपनी अपने शेयरधारकों या निवेशकों को डिविडेंड देती है।

डिविडेंड शेयर कैसे चुने?

डिविडेंड शेयर चुनने के दो तरीके हैं।

  • कंपनी एंड शेयरों पर रिसर्च
  • पोर्टफोलियो तैयार करके(smallcase)

डिविडेंड देने वाली कंपनियों की लिस्ट :

  1. ITC :
  • शेयर प्राइस: 270 डिविडेंड कौन देता है? रुपए
  • डिविडेंड कौन देता है?
  • डिविडेंड : 11.50रुपए
  • ITC FMCG की टॉप मोस्ट कंपनी में से एक है जो कि सिगरेट भी बनाती है।
  • कंपनी पिछले 5 सालों से लगातार डिविडेंड दे रही है
  • ITC साल में 2 बार डिविडेंड देती है ।

2. Polyplex :

  • शेयर प्राइस 2340.5 रुपए
  • डिविडेंड : 104 रुपए
  • कंपनी पिछले 5 सालों से लगातार डिविडेंड दे रही है कंपनी का current शेयर प्राइस 2340.5 रुपए है।
  • 2021 में कंपनी ने 4 बार डिविडेंड दिया है।
  • (100 रुपए, 33 रुपए, 17 रुपए, 15 रुपए)

3. Coal India

  • माइनिंग सेक्टर में स्थित एक लार्ज कैप कंपनी है।
  • मार्केट कैप : 1 लाख 5 हजार करोड़
  • शेयर प्राइस : 171 रुपए
  • डिविडेंड : 9.36 %
  • 1 साल में दो बार डिविडेंड देती है
  • सालाना रिटर्न : 41%

4.HCL
5.OFSS
6.GOOD AIR INDIA
7.INEO Solution
8.Vedanta
9.Sanofi India
10.Gail India

Q1. डिविडेंड क्या होता है in Hindi? Ans. किसी भी कंपनी को 1 साल में जो भी मुनाफा होता है कंपनी उसे अपने शेयरधारकों में बांट देती है । यह कंपनी के ऊपर निर्भर करता है कि वह साल में कितनी बार अपने निवेशकों को डिविडेंड देती है।

Q2. Dividend कितने प्रकार का होता है?

Ans. 3, Intrim

Final

Special

Q3. ITC साल में कितनी बार डिविडेंड देती है?

Q4. Dividend yield किसे कहते हैं?

Ans. डिविडेंड यील्ड कंपनी द्वारा हर साल दिए जाने वाले प्रति शेयर dividend और कंपनी के प्रति शेयर का अनुपात होता है। Dividend yield को प्रतिशत में दर्शाते हैं।

Dividend Yield= प्रति शेयर डिविडेंड(सालाना)/ शेयर का मूल्य

Q5. सबसे ज्यादा डिविडेंड कौन सा शेयर देता है?

Ans. Sanofi India ने 2022 में 490 रुपए का डिविडेंड दिया। (जिसमें 309 Special dividend और 181 रुपए Final डिविडेंड के रूप में दिया गया)

रेटिंग: 4.65
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 375
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *