ट्रेंड रणनीतियाँ

भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस

भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस
Make Money: पार्ट टाइम काम कर कीजिए 2 हजार रुपए प्रति घंटे तक की कमाई, ये हैं 6 बेस्ट ऑप्शंस

पार्ट टाइम काम कर कीजिए 2 हजार रुपए प्रति घंटे तक की कमाई, ये हैं 6 बेस्ट ऑप्शंस

पार्ट टाइम में हर घंटे 2000 रुपए तक की कमाई के लिए ऐसी ही कई जॉब के ऑप्शन उपलब्ध है जिनके जरिए आप अपने शौक को बरकरार रख अच्छी कमाई भी कर सकते है।

Edited by: Manish Mishra
Updated on: February 19, 2018 20:35 IST

Make Money: पार्ट टाइम काम कर कीजिए 2 हजार रुपए प्रति घंटे तक की कमाई, ये हैं 6 बेस्ट ऑप्शंस- India TV Hindi News

Make Money: पार्ट टाइम काम कर कीजिए 2 हजार रुपए प्रति घंटे तक की कमाई, ये हैं 6 बेस्ट ऑप्शंस

भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस

धन महोत्सव

टॉप 5 बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप

  • Post author: धन महोत्सव
  • Post category: स्टॉक मार्केट
  • Reading time: 3 mins read

सभी के लिए स्मार्टफोन और इंटरनेट की पहुंच ने शेयर बाजार में ट्रेडिंग के तरीके को पूरी तरह से भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस बदल दिया है। अब मोबाइल से ट्रेडिंग करना निवेशकों और स्टॉकब्रोकर दोनों के लिए फायदे का सौदा बन गया है।

भारत में इतने सारे स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप होने के कारण, एक सुरक्षित, परेशानी मुक्त और लाभदायक ट्रेडिंग के लिए बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप (Best Share Trading App) को चुनना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

टॉप 5 बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप (Top 5 Best Trading Apps in India)

सभी स्टॉकब्रोकरों के पास अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ अपने स्वयं के ट्रेडिंग ऐप हैं जो भारत का सबसे अच्छा ट्रेडिंग ऐप बनने के लिए एक ही प्लेटफॉर्म पर विभिन्न प्रतिभूतियों और किस्मों में निवेश करने का अवसर प्रदान करते हैं।

हम आपकी सुविधा के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन ट्रेडिंग ऐप चुनने में आपकी मदद करने के लिए भारत के बेस्ट 5 मोबाइल स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप (Top 5 Best Trading Apps in Hindi) सूचीबद्ध कर रहे हैं।

स्टॉक मार्केट से संबंधित अधिक जानकारी के लिए आप टॉप 5 बेस्ट स्टॉक मार्केट ऐप के बारे में भी जान सकते हैं।

ज़ेरोधा काइट (Zerodha Kite)

ज़ेरोधा काइट एक स्टॉक मार्केट मोबाइल ट्रेडिंग ऐप है जो आईओएस और एंड्रॉइड दोनों प्लेटफॉर्म के लिए उपलब्ध है। यह ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म भारतीय निवेशकों के लिए स्टॉक मार्केट और म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए अपनी नई विशेषताओं के कारण सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म बन गया है।

यह ऐप अपने उपयोगकर्ताओं को आसान अवलोकन, आसान यूजर इंटरफेस, शेयरों की तेजी से खरीद और बिक्री, वास्तविक समय बाजार विश्लेषण, बहु निकास ट्रेडिंग विकल्पों के साथ सर्वोत्तम चार्ट सुविधा प्रदान करता है।

ज़ेरोधा काइट भारत में शीर्ष 3 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप में से एक है जो अपने उपयोगकर्ताओं को सर्वोत्तम गुणवत्तायुक्त सेवा और न्यूनतम स्टॉक ब्रोकरेज शुल्क के साथ लगभग निःशुल्क ट्रेडिंग खाता खोलने का विकल्प देता है।

शेयरखान मोबाइल ट्रेडिंग ऐप

शेयरखान भारत की सबसे पुरानी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनी है, यह भारत की सबसे अच्छी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनियों में से एक है, जिसकी भारत के लगभग सभी जिलों में शाखाएँ हैं।

शेयरखान मोबाइल ट्रेडिंग ऐप सभी प्रमुख व्यापारिक सुविधाएँ प्रदान करता है जैसे कि आसान फंड ट्रांसफर, उन्नत चार्ट, व्यक्तिगत डिफ़ॉल्ट स्क्रीन, माप उपकरण, वॉचलिस्ट, म्यूचुअल फंड में निवेश करने का विकल्प आदि।

हमारे अनुसार यदि आप सबसे अच्छी और सुरक्षित ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो आपको शेयरखान के साथ जाना चाहिए। यहां आपको गुणवत्तापूर्ण सेवा के साथ आधुनिक और नवीनतम सुविधाएं मिलेंगी। हालांकि, ब्रोकरेज चार्ज अन्य ब्रोकरेज कंपनियों की तुलना में थोड़ा अधिक है।

अपस्टॉक्स प्रो ट्रेडिंग ऐप

अपस्टॉक्स भारत में शीर्ष 5 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकरेज कंपनियों में से एक है, जिसने शेयर बाजार की उन्नत सुविधाओं के साथ 2016 में अपने उपयोगकर्ताओं के लिए अपस्टॉक्स प्रो नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया।

अपस्टॉक्स भारत में अग्रणी डिस्काउंट ब्रोकरेज ऐप में से एक है जो अपने निवेशकों को एक क्लिक पर सर्वश्रेष्ठ ब्रोकरेज सेवा प्रदान करता है। सबसे ज्यादा ट्रेंडिंग में चलने वाला अगर कोई stock market trading app है तो वह अपस्टॉक्स है।

निवेशक यूनिवर्सल सर्च टूल का उपयोग लाभदायक स्टॉक खोजने, विभिन्न चार्टों के माध्यम से पोर्टफोलियो और रिटर्न का विश्लेषण करने, रीयल टाइम ट्रेडिंग करने और यदि आवश्यक हो, तो सीधे अपने विशेषज्ञों के साथ बातचीत करने के लिए कर सकते हैं।

एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप

एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप एंजेल वन लिमिटेड द्वारा पेश किया गया भारत के शीर्ष 5 बेस्ट मोबाइल स्टॉक ब्रोकिंग ऐप में से एक है। जिसके 2 मिलियन से ज्यादा एक्टिव ग्राहक हैं। आप मनी मार्केट फंड के बारे में जानकारी प्राप्त कर एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप के माध्यम से निवेश कर सकते हैं।

इस ऐप के माध्यम से निवेशक अपनी सुविधा के अनुसार निवेश कर सकते हैं, अपने पोर्टफोलियो का प्रबंधन कर सकते हैं और विशेषज्ञ की सलाह ले सकते हैं। यह मोबाइल एप्लिकेशन शून्य ब्रोकरेज शुल्क का दावा करता है जो अंततः निवेशकों की कमाई के लिए सही है।

इस ऐप के जरिए आप इक्विटी, कमोडिटी, करेंसी, म्यूचुअल फंड, आईपीओ आदि में ट्रेड और निवेश कर सकते हैं। एंजेल मोबाइल ट्रेडिंग एप अपने ग्राहकों को सिंगल क्लिक पर बिना किसी परेशानी के मैक्सिमम सुविधाएं प्रदान करता है।

आईआईएफएल मार्केट्स (IIFL Markets)

आईआईएफएल मार्केट्स ऐप जनवरी 2015 में आईआईएफएल फाइनेंस लिमिटेड द्वारा अपने निवेशकों के लिए पेश किया गया भारत का प्रमुख सिक्योरिटीज ट्रेडिंग एप्लीकेशन है।

इस ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से, निवेशक इक्विटी, फ्यूचर्स और ऑप्शंस, करेंसी, कमोडिटी, म्यूचुअल फंड आदि में निवेश कर सकते हैं और स्टॉक मार्केट से संबंधित नवीनतम जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

निवेशक बाजार अनुसंधान करके स्टॉक्स का रुझान जान सकते है, एनएसई / बीएसई की शीर्ष सूचीबद्ध कंपनियों की मुफ्त शोध रिपोर्ट प्राप्त कर सकते है और अपने आदेशों को रद्द या संशोधित कर सकते।

यह प्रतिभूति निवेश मंच भारत का सबसे अच्छा शेयर बाजार निवेश माध्यम है जो अपने उपयोगकर्ताओं को बिना किसी परेशानी के सर्वोत्तम और सुरक्षित सेवा प्रदान करता है।

ऊपर, आपने भारत के शीर्ष 5 सर्वश्रेष्ठ ट्रेडिंग मोबाइल एप्लिकेशन के बारे में जानकारी प्राप्त की। ये सभी ऐप अत्यधिक प्रतिष्ठित कंपनियों के हैं, इसलिए इनकी विश्वसनीयता और सत्यता पर संदेह नहीं किया जाना चाहिए।

हमने उचित शोध कर यहां उल्लिखित भारत के टॉप 5 बेस्ट ट्रेडिंग ऐप (Best Stock Trading Apps in Hindi) के बारे में उचित जानकारी प्राप्त की है, फिर भी खाता खोलने या निवेश करने से पहले, आपको इनके बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस

धन महोत्सव

टॉप 5 बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप

  • Post author: धन महोत्सव
  • Post category: स्टॉक मार्केट
  • Reading time: 3 भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस mins read

सभी के लिए स्मार्टफोन और इंटरनेट की पहुंच ने शेयर बाजार में ट्रेडिंग के तरीके को पूरी तरह से बदल दिया है। अब मोबाइल से ट्रेडिंग करना भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस निवेशकों और स्टॉकब्रोकर दोनों के लिए फायदे का सौदा बन गया है।

भारत में इतने सारे स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप होने के कारण, एक सुरक्षित, परेशानी मुक्त और लाभदायक ट्रेडिंग के लिए बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप (Best Share Trading App) को चुनना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

टॉप 5 बेस्ट शेयर ट्रेडिंग ऐप (Top 5 Best Trading Apps in India)

सभी स्टॉकब्रोकरों के पास अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ अपने स्वयं के ट्रेडिंग ऐप हैं जो भारत का सबसे अच्छा ट्रेडिंग ऐप बनने के लिए एक ही प्लेटफॉर्म पर विभिन्न प्रतिभूतियों और किस्मों में निवेश करने का अवसर प्रदान करते हैं।

हम आपकी सुविधा के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन ट्रेडिंग ऐप चुनने में आपकी मदद करने के लिए भारत के भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस बेस्ट 5 मोबाइल स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप (Top 5 Best Trading Apps in Hindi) सूचीबद्ध कर रहे हैं।

स्टॉक मार्केट से संबंधित अधिक जानकारी के लिए आप टॉप 5 बेस्ट स्टॉक मार्केट ऐप के बारे में भी जान सकते हैं।

ज़ेरोधा काइट (Zerodha Kite)

ज़ेरोधा काइट एक स्टॉक मार्केट मोबाइल ट्रेडिंग ऐप है जो आईओएस और एंड्रॉइड दोनों प्लेटफॉर्म के लिए उपलब्ध है। यह ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म भारतीय निवेशकों के लिए स्टॉक मार्केट और म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए अपनी नई विशेषताओं के कारण सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म बन गया है।

यह ऐप अपने उपयोगकर्ताओं को आसान अवलोकन, आसान यूजर इंटरफेस, शेयरों की तेजी से खरीद और बिक्री, वास्तविक समय बाजार विश्लेषण, बहु निकास ट्रेडिंग विकल्पों के साथ सर्वोत्तम चार्ट सुविधा प्रदान करता है।

ज़ेरोधा काइट भारत में शीर्ष 3 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ऐप में से एक है जो अपने उपयोगकर्ताओं को सर्वोत्तम गुणवत्तायुक्त सेवा और न्यूनतम स्टॉक ब्रोकरेज शुल्क के साथ लगभग निःशुल्क ट्रेडिंग खाता खोलने का विकल्प देता है।

शेयरखान मोबाइल ट्रेडिंग ऐप

शेयरखान भारत की सबसे पुरानी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनी है, यह भारत की सबसे अच्छी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनियों में से एक है, जिसकी भारत के लगभग सभी जिलों में शाखाएँ हैं।

शेयरखान मोबाइल ट्रेडिंग ऐप सभी प्रमुख व्यापारिक सुविधाएँ प्रदान करता है जैसे कि आसान फंड ट्रांसफर, उन्नत चार्ट, व्यक्तिगत डिफ़ॉल्ट स्क्रीन, माप उपकरण, वॉचलिस्ट, म्यूचुअल फंड में निवेश करने का विकल्प आदि।

हमारे अनुसार यदि आप सबसे अच्छी और सुरक्षित ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो आपको शेयरखान के साथ जाना चाहिए। यहां आपको गुणवत्तापूर्ण सेवा के साथ आधुनिक और नवीनतम सुविधाएं मिलेंगी। हालांकि, ब्रोकरेज चार्ज अन्य ब्रोकरेज कंपनियों की तुलना में थोड़ा अधिक है।

अपस्टॉक्स प्रो ट्रेडिंग ऐप

अपस्टॉक्स भारत में शीर्ष 5 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकरेज कंपनियों में से एक है, जिसने शेयर बाजार की उन्नत सुविधाओं के साथ 2016 में अपने उपयोगकर्ताओं के लिए अपस्टॉक्स प्रो नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया।

अपस्टॉक्स भारत में अग्रणी डिस्काउंट ब्रोकरेज ऐप में से एक है जो अपने निवेशकों को एक क्लिक पर सर्वश्रेष्ठ ब्रोकरेज सेवा प्रदान करता है। सबसे ज्यादा ट्रेंडिंग में चलने वाला अगर कोई stock market trading app है तो वह अपस्टॉक्स है।

निवेशक यूनिवर्सल सर्च टूल का उपयोग लाभदायक स्टॉक खोजने, विभिन्न चार्टों के माध्यम से पोर्टफोलियो और रिटर्न का विश्लेषण करने, रीयल टाइम ट्रेडिंग करने और यदि आवश्यक हो, तो सीधे अपने विशेषज्ञों के साथ बातचीत करने के लिए कर सकते हैं।

एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप

एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप एंजेल वन लिमिटेड द्वारा पेश किया गया भारत के शीर्ष 5 बेस्ट मोबाइल स्टॉक ब्रोकिंग ऐप में से एक है। जिसके 2 मिलियन से ज्यादा एक्टिव ग्राहक हैं। आप मनी मार्केट फंड के बारे में जानकारी प्राप्त कर एंजेल ब्रोकिंग मोबाइल ऐप के माध्यम से निवेश कर सकते हैं।

इस ऐप के माध्यम से निवेशक अपनी सुविधा के अनुसार निवेश कर सकते हैं, अपने पोर्टफोलियो का प्रबंधन कर सकते हैं और विशेषज्ञ की सलाह ले सकते हैं। यह मोबाइल एप्लिकेशन शून्य ब्रोकरेज शुल्क का दावा करता है जो अंततः निवेशकों की कमाई के लिए सही है।

इस ऐप के जरिए आप इक्विटी, कमोडिटी, करेंसी, म्यूचुअल फंड, आईपीओ आदि में ट्रेड और निवेश कर सकते हैं। एंजेल मोबाइल ट्रेडिंग एप अपने ग्राहकों को सिंगल क्लिक पर बिना किसी परेशानी के मैक्सिमम सुविधाएं प्रदान करता है।

आईआईएफएल मार्केट्स (IIFL Markets)

आईआईएफएल मार्केट्स ऐप जनवरी 2015 में आईआईएफएल फाइनेंस लिमिटेड द्वारा अपने निवेशकों के लिए पेश किया गया भारत का प्रमुख सिक्योरिटीज ट्रेडिंग एप्लीकेशन है।

इस ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से, निवेशक इक्विटी, फ्यूचर्स और ऑप्शंस, करेंसी, कमोडिटी, म्यूचुअल फंड आदि में निवेश कर सकते हैं और स्टॉक मार्केट से संबंधित नवीनतम जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

निवेशक बाजार अनुसंधान करके स्टॉक्स का रुझान जान सकते है, एनएसई / बीएसई की शीर्ष सूचीबद्ध कंपनियों की मुफ्त शोध रिपोर्ट प्राप्त कर सकते है और अपने आदेशों को रद्द या संशोधित कर सकते।

यह प्रतिभूति निवेश मंच भारत का सबसे अच्छा शेयर बाजार निवेश माध्यम है जो अपने उपयोगकर्ताओं को बिना किसी परेशानी के सर्वोत्तम और सुरक्षित सेवा प्रदान करता है।

ऊपर, आपने भारत के शीर्ष 5 सर्वश्रेष्ठ ट्रेडिंग मोबाइल एप्लिकेशन के बारे में जानकारी प्राप्त की। ये सभी ऐप अत्यधिक प्रतिष्ठित कंपनियों के हैं, इसलिए इनकी विश्वसनीयता और सत्यता पर संदेह नहीं किया जाना चाहिए।

हमने उचित शोध कर यहां उल्लिखित भारत के टॉप 5 बेस्ट ट्रेडिंग ऐप (Best Stock Trading Apps भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस in Hindi) के बारे में उचित जानकारी प्राप्त की है, फिर भी खाता खोलने या निवेश करने से पहले, आपको इनके बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बाजार में उठा-पटक, अच्‍छा रिटर्न चाहिए तो अपनाएं ये रणनीति

कोरोना वायरस महामारी की वजह से शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है. ऐसे में निवेशक अब एक बार फिर सुरक्षित निवेश की तलाश में जुट गए हैं. जानकारों का कहना है कि मौजूदा स्थिति में बाजार से पैसे नहीं निकालने चाहिए. रिकवरी के दौरान ये फायदेमंद साबित हो सकता है.

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बाजार में उठा-पटक, अच्‍छा रिटर्न चाहिए तो अपनाएं ये रणनीति

TV9 Bharatvarsh | Edited By: आशुतोष वर्मा

Apr 24, 2021 | 9:22 AM

देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच अब शेयर बाजार में भी उथल-पुथल देखने को मिल रही है. निवेशक भी बाजार में अनिश्चितता को लेकर चिंतित नज़र आ रहे हैं. उन्‍हें एक बार फिर इक्विटी से निकल कर किसी दूसरे सुरक्षित निवेश विकल्‍प की तलाश है. माना जा रहा कि अगर आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण के हालात में सुधार नहीं होते हैं तो बाजार में बड़ी गिरावट भी आ सकती है. ऐसे में अगर आपने म्‍यूचुअल फंड्स में निवेश किया है तो आपको कई बातों पर खास ध्‍यान देना चाहिए. आपके मन में भी सबसे बड़ सवाल होगा कि ऐसी स्थिति में इक्विटी फंड्स को लेकर क्‍या करें?

पिछले साल देश में कोविड-19 मामलों के दौरान में बाजार में गिरावट से निवेशकों में डर दिखा था. लेकिन, इसके बाद बाजार में लगभग दोगुनी तेजी देखने को मिली. ऐसी स्थि‍ति में जिन निवेशकों ने बाजार से पैसे नहीं निकाले थे, उन्‍हें डबल मुनाफा भी हुआ. जानकारों का कहना है कि बाजार के लिए कोरोना जैसी स्थिति 10 से 15 सालों बाद आती है. इस समय बाजार भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस में नर्वस रिएक्‍शन होता है. निवेशकों के पास लंबी अवधि में खरीदारी का मौका बनता है.

रिकवरी के दौरान फायदेमंद साबित हो सकता है आज का निवेश

जानकारों का कहना है कि ऐसी स्थिति में बाजार से पैसा नहीं निकालना चाह‍िए. कई बार कंपनियों की अच्‍छे प्रदर्शन के बाद भी बाजार में माहौल की वजह से उनके शेयरों में गिरावट देखने को मिलती है. लेकिन जब बाजार में रिकवरी आती है तो इन्‍हीं कंपनियों के शेयरों में सबसे बड़ी तेजी देखने को मिलती है.

आज के समय में निवेश बनाए रखना लंबी अवधि में यह बड़ा फायदेमंद साबित हो सकता है. पिछले साल के अनुभव के आधार पर जानकारों का कहना है कि निवेशकों इस बार कोरोना की दूसरी लहर के दौरान निवेशक बाजार से पैसा नहीं निकालेंगे.

निवेशक भी अब इस बात को समझने लगे हैं कि आज भले ही बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है, लेकिन लंबी अवधि में इनमें सुधार देखने को मिलेगीी. इस बार उनमें अपने निवेश को लेकर ज्‍यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है.

इन सेक्‍टर्स में होगी तेजी की उम्‍मीद

TV9 मनी से बातचीत करते हुए सुंदरम म्‍यूचुअल फंड के MD व CEO सुनील सुब्रमण्‍यम ने कहा कि निवेशकों को इकोनॉमी पर भी ध्‍यान देना चाहिए. कंपनियों की आय बढ़ने से भी इन्‍हें फायदा मिलेगा. पिछली तिमाही में जीडीपी पॉजिटिव रही थी और इससे कंपनियों को फायदा हुआ है.’

ऐसे में निवेशकों को घरेलू सेक्‍टर्स पर ज्‍यादा फोकस करना चाहिए. कंजम्‍पशन सेक्‍टर में ज्‍यादा डिमांड देखने को मिलेगी. ऐसे में कंजम्‍पशन सेक्‍टर वाली कंपनियों के शेयरों में तेजी देखने को मिल सकती है.

बैंकिंग सेक्‍टर में निवेश करना फायदेमंद साबित हो सकता है. बीते एक साल में देखें तो लगभग सभी बैंक एनपीए से निकलकर बेहतर दरों पर कर्ज बांट रहे हैं. वे आकर्षक दरों पर ग्राहकों को होम लोन ऑफर कर रहे हैं. ऐसे में निवेशकों के पास बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्‍टर में पैसा लगाना फायदेमंद साबित हो सकता है.

क्‍या हो म्‍यूचुअल फंड को लेकर रणनीति?

सुब्रमण्‍यम का कहना है कि पिछली बार विदेशी संस्‍थागत निवेशकों के निवेश से बड़ी कंपनियों में तेजी आई थी. इस वजह से लार्जकैप कंपनियों के स्‍टॉक्‍स में तेजी देखने को मिल रही थी. लेकिन, अब घरेलू निवेशकों की ओर से इन्‍वेस्‍टमेंट आएगा तो सभी सेक्‍टर्स में तेजी भी देखने को मिलेगी.

इस बार इकोनॉमिक रिकवरी की वजह से मिडकैप और स्‍मॉलकैप कंपनियों के स्‍टॉक्‍स में तेजी देखने को मिलेगी. ऐसे में निवेशकों को अपने पोर्टफोलियो में मल्‍टीकैप और फ्लेक्‍सीकैप को शामिल करना चाहिए . निवेशकों को हमेशा अपने रिस्‍क लेने की क्षमता को जरूर ध्‍यान रखना चाहिए.

मुश्किल में Maruti, Hyundai और Tata, अब इस कंपनी ने किया बड़ा ऐलान

ईवी डिवाइस का लोकल लेवल पर मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के अलावा जॉब्स और लोकल कम्यूनिटी के डेवल्पमेंट को बढ़ावा देगा। गुलाटी ने कहा कि टीकेएम और टीकेएपी मिलकर करीब 3,500 नए रोजगार देंगी।

मुश्किल में Maruti, Hyundai और Tata, अब इस कंपनी ने किया बड़ा ऐलान

भारत में मारुति, हुंडई, टाटा जैसे बड़ी कंपनियों को टक्कर देने के लिए टोयोटा लगातार अपनी स्थिती को मजबूत कर रही है। अब टोयोटा किर्लोस्कर मोटर और टोयोटा ग्रुप की अन्य कंपनियों ने जानकारी देते हुए कहा कि वे इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) में इस्तेमाल होने वाले डिवाइस के लोकल लेवल पर प्रोडेक्शन के लिए कर्नाटक में लगभग 4,800 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी।

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) टोयोटा किर्लोस्कर ऑटो पार्ट्स (टीकेएपी) के साथ मिलकर 4,100 करोड़ रुपये लगाएगी। वहीं एक अन्य कंपनी टोयोटा इंडस्ट्रीज इंजन इंडिया (टीआईईआई) 700 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करेगी। टीकेएम और टीकेएपी ने शनिवार को इस संबंध में भारत में बेस्ट इन्वेस्टमेंट के ऑप्शंस कर्नाटक सरकार के साथ एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

टीकेएम के एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट विक्रम गुलाटी ने कहा कि टोयोटा ग्रुप और टीआईईआई मिलकर लगभग 4,800 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करेंगे। हम ऐसा 'गो ग्रीन, गो लोकल' को लेकर कर रहे हैं और हमारा उद्देश्य प्रदूषण में तेजी से कमी लाने के मिशन में योगदान देना है।

उन्होंने कहा कि ईवी डिवाइस का लोकल लेवल पर मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के अलावा जॉब्स और लोकल कम्यूनिटी के डेवल्पमेंट को बढ़ावा देगा। गुलाटी ने कहा कि टीकेएम और टीकेएपी मिलकर करीब 3,500 नए रोजगार देंगी। सप्लाई चेन डेवल्प होने के साथ ही यह संख्या और बढ़ेगी।

इस मौके पर टीकेएम के वाइस चेयरमैन विक्रम एस किर्लोस्कर ने कहा कि टोयोटा ग्रुप की कंपनियों ने पहले ही 11,812 करोड़ रुपये का निवेश किया है और 8,000 से अधिक लोगों को रोजगार मिला है। इस एमओयू पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और किर्लोस्कर ने हस्ताक्षर किए है। इस मौके पर राज्य के लार्ज और मिडियम इंडस्ट्री मंत्री मुरुगेश आर निरानी भी मौजूद थे।

रेटिंग: 4.47
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 106
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *